रित्तै फर्किए जन्ती, खेर गयो भोज
मकवानपुर असोज २४