चार सय मुरी खेतीयोग्य जमिन बगरमा परिणत
गुल्मी, असोज २२ (रासस)